Friday, March 5, 2021

रक्तदान करने से पहले ये बातें जान लें, इन 5 लोगों को ब्लड डोनेट नहीं करना चाहिए


नई दिल्ली: रक्तदान को महादान यूं ही नहीं कहा जाता. एक व्यक्ति के रक्तदान करने से 5 लोगों का भला हो सकता है, मरीजों को नया जीवन मिल सकता है और रक्तदान (Blood Donation) की इस पूरी प्रक्रिया में सिर्फ 20 मिनट का समय लगता है. बावजूद इसके भारत में 30 में से सिर्फ 1 व्यक्ति ही नियमित रूप से ब्लड डोनेट करता है. आपको जानकर हैरानी होगी कि हमारे देश में रोजाना 40 हजार ब्लड डोनेशन की जरूरत होती है ताकि कैंसर, सिकल सेल एनीमिया से लेकर एमरजेंसी सर्जरी, ऐक्सिडेंट आदि से जुड़े मामलों को हैंडल किया जा सके. रेड क्रॉस (Red Cross) जैसे संगठन लोगों को ब्लड डोनेशन के लिए जागरूक करते रहते हैं. हालांकि रक्तदान करने से पहले कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखना चाहिए और किन लोगों को ब्लड डोनेट नहीं करना चाहिए इस बारे में भी जानना जरूरी है.

1. जिन लोगों ने टैटू बनवाया हो या पियरसिंग करवायी हो
अगर आपने स्किन से जुड़ा कोई भी ट्रीटमेंट करवाया हो, टैटू (Tattoo) बनवाया हो या फिर Piercing यानी स्किन में छेद करवाया हो (नाक, कान, नेवल कहीं भी) तो उस व्यक्ति को कम से कम 4 महीने तक रक्तदान नहीं करना चाहिए. इसका सबसे अहम कारण ये है कि हेपेटाइटिस वायरस को ट्रांसफर से होने से रोका जा सके. 

ये भी पढ़ें- टैटू बनवाने वाले हो जाएं सावधान, हो सकता है हार्ट अटैक का खतरा

2. जिन लोगों को सर्दी-जुकाम या फ्लू हो  
अगर किसी व्यक्ति को सर्दी-जुकाम या फ्लू (Cold and Flu) हो तो उन्हें भी पूरी तरह से स्वस्थ होने तक ब्लड डोनेट नहीं करना चाहिए. रेड क्रॉस सोसायटी भी इस पॉलिसी का पालन करती है ताकि ब्लड डोनेट करने वाले व्यक्ति से खून चढ़ाने वाले व्यक्ति में फ्लू के वायरस को फैलने से रोका जा सके.

3. किसी बीमारी के इलाज के लिए एंटीबायोटिक्स का सेवन किया हो
जिन लोगों को बीते 2 हफ्ते में किसी भी तरह का इंफेक्शन (Infection) हुआ हो और उसके इलाज के लिए एंटीबायोटिक्स (Antibiotics) का इस्तेमाल हुआ हो उन लोगों को 10-15 दिन के बाद ही ब्लड डोनेट करना चाहिए. ऐसा इसलिए क्योंकि ऐसे कई इंफेक्शन होते हैं जो खून में भी ट्रांसफर हो सकते हैं. रक्तदान करने वाले डोनर को अगर बैक्टीरियल इंफेक्शन हो जिसके इलाज के लिए वे एंटीबायोटिक्स का सेवन कर रहे हों उन्हें भी ब्लड डोनेट नहीं करना चाहिए.

ये भी पढ़ें- एंटीबायोटिक्स कैसे काम करते हैं और इनका शरीर पर क्या प्रभाव पड़ता है

4. अगर आप अंडरवेट हैं या आपका वजन सामान्य से कम है
रक्तदान करने वाले व्यक्ति का वजन कम से कम 50 किलो अवश्य होना चाहिए और उसकी सेहत भी पूरी तरह से ठीक होनी चाहिए. 18 साल से कम उम्र के ब्लड डोनर्स के लिए भी हाइट और वेट की स्पेसिफिक जरूरतें होती हैं और उन्हें पूरा करने वाले लोग ही ब्लड डोनेट कर सकते हैं.

5. इन लोगों को ब्लड डोनेट नहीं करना चाहिए
– जिन्हें बीते एक साल में जॉन्डिस या हेपेटाइटिस की बीमारी हुई हो
– वैसे लोग जिन्हें किसी भी तरह का कैंसर हुआ हो या कैंसर का इलाज चल रहा हो
– मुंहासों के इलाज के लिए किसी तरह की दवा खा रहे हों 
– किसी खास तरह की बीमारी के लिए टीकाकरण हुआ हो

सेहत से जुड़े अन्य लेख पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.





Source link

MORE Articles

क्या आपको भी हो गया है कंप्यूटर विजन सिंड्रोम? इन लक्षणों से करें इस बीमारी की पहचान

नई दिल्ली: कंप्यूटर विजन सिंड्रोम- नाम सुनकर ऐसा लग रहा होगा कि यह कंप्यूटर पर अधिक देर तक काम करने की वजह से...

భారత్‌లో విడుదలైన 3 కొత్త NIJ ఎలక్ట్రిక్ స్కూటర్స్.. చీప్ కాస్ట్ & మోర్ ఫీచర్స్

ఎన్‌ఐజె ప్రవేశపెట్టిన మూడు ఎలక్ట్రిక్ స్కూటర్లకు క్యూవి 60, అక్లేరియో మరియు ఫ్లియన్ అని పేరు పెట్టారు. ఈ ఎలక్ట్రిక్ స్కూటర్లు పెట్రోల్ తో నడిచే స్కూటర్ల...

41 శాతం ఆదాయం రాష్ట్రాలకే.. పెట్రో ధరలపై కేంద్ర-రాష్ట్రాలు సమీక్షించాలి: నిర్మల

పెట్రో ధరలు భగ్గుమంటున్నాయి. ప్రతీ రోజు ఆయిల్ సంస్థలు ధరలు సమీక్షించి.. ఎంతో కొంత వాయిస్తోన్నాయి. దీంతో పెట్రో ధర సెంచరీ మార్క్‌నకు చేరువగా ఉంది. పెట్రో ధరలు.. పన్నులపై సోషల్ మీడియాలో...

मोटापे से परेशान लोग इस फल के छिलकों से बनी चाय का करें सेवन, मिलेंगे चमत्कारिक फायदे, जानें बनाने की विधि

नई दिल्ली: ज्यादातर लोग दिन की शुरूआत चाय की चुस्की के साथ करते हैं. कई बार दूध से बनी चाय का अधिक सेवन...

సోషల్‌ మీడియా, ఓటీటీల కొత్త మార్గదర్శకాలపై సుప్రీం ఫైర్‌- కఠిన చట్టాలకు కేంద్రం హామీ

దేశంలో విచ్చలవిడిగా చెలరేగిపోతున్న సోషల్‌ మీడియా, ఓటీటీలకు కేంద్రం తాజాగా మార్గదర్శకాలను విడుదల చేసింది. అయితే వీటి అమలుతో సోషల్‌ ప్లాట్‌ఫామ్స్‌ను కట్టడి చేయడం సాధ్యం కాదని అంతా భావిస్తున్నారు. ఇదే క్రమంలో...

Stay Connected

98,675FansLike
224,586FollowersFollow
56,656SubscribersSubscribe