Wednesday, May 18, 2022

Blood Clot Signs: त्वचा के रंग में बदलाव से लेकर सूजन तक, खून का थक्का जमने के इन संकेतों को नजरअंदाज न करें


नई दिल्ली: जब भी आपको चोट लगती है (Injury) या किसी तरह का कट लगता है तो स्किन से खून बहने लगता है. इस दौरान ब्लड क्लॉट यानी खून का थक्का जमना (Blood Clot) अच्छा माना जाता है क्योंकि थक्का जमने पर बहुत अधिक ब्लीडिंग होने से रोकने में मदद (Stops Bleeding) मिलती है. खून में मौजूद कोशिकाएं और प्रोटीन इक्ट्ठा होकर क्लॉट बनाते हैं ताकि ब्लीडिंग को रोका जा सके. लेकिन अगर यह ब्लड क्लॉट अपने आप पिघल नहीं जाता (If clot does not dissolve) या फिर शरीर के अंदर किसी अंग में या नसों में बनने लगता है तो यह जानलेवा भी साबित हो सकता है. 

ब्लड क्लॉट के संकेतों की करें पहचान

ब्लड क्लॉट के इन संकेतों को पहचानना बेहद जरूरी है ताकि समय रहते ही इसका इलाज हो सके और इसे जानलेवा (Life threatening) होने से रोका जा सके. अगर धमनी में खून का थक्का जम जाए तो हार्ट अटैक (Heart Attack) हो सकता है. अगर फेफड़ों में कभी क्लॉट की समस्या हो जाए तो इसे पल्मोनरी एम्बोलिज्म कहा जाता है और अगर शरीर के किसी नस में खून का थक्का जमने लगे तो उसे डीप वेन थ्रॉम्बोसिस (DVT) कहा जाता है.   

ये भी पढ़ें- कब्ज से लेकर सीने में जलन तक हर समस्या दूर कर सकता है एलोवेरा का जूस

1. शरीर के किसी हिस्से में सूजन- जब शरीर की किसी नस या रक्तवाहिका में क्लॉट की वजह से खून का प्रवाह रुक जाता है (Blood flow) तो शरीर के उस हिस्से में सूजन होने लगती है (Swelling). अगर पैर के निचले हिस्से में सूजन होने लगे तो यह डीवीटी का संकेत होता है. ब्लड क्लॉट की समस्या ठीक होने जाने के बाद भी हर 3 में से 1 व्यक्ति को सूजन की और दर्द की समस्या बनी रहती है.

2. स्किन का कलर चेंज होना- अगर हाथ या पैर की किसी नस में ब्लड क्लॉट हो जाए तो उस हिस्से की स्किन का रंग लाल या नीला हो जाता है (Skin red or blue). कई बार रक्तवाहिका को हुए नुकसान की वजह से भी स्किन का रंग बदल जाता है. इसके अलावा फेफड़ों में अगर ब्लड क्लॉट हो जाए तो इसकी वजह से भी आपकी त्वचा नीली पड़ सकती है.

ये भी पढ़ें- गर्मी में बीमार पड़ने से बचना है तो इन चीजों को डाइट में जरूर करें शामिल

3. तेज दर्द महसूस होना- अगर किसी को अचानक सीने में तेज दर्द (Chest pain) होने लगे तो यह इस बात का संकेत हो सकता है कि धमनी में क्लॉट की वजह से हार्ट अटैक आया है या फिर फेफड़ों में क्लॉट की समस्या बढ़ गई है. इसके अलावा खून का थक्का जमने की वजह से हाथ, पैर या पेट में भी दर्द महसूस हो सकता है.

4. सांस लेने में तकलीफ- यह एक गंभीर लक्षण है जो फेफड़ों में या हार्ट में खून का थक्का जमने का संकेत देता है. सांस लेने में तकलीफ (Breathing Trouble) के साथ ही बहुत अधिक पसीना भी आ सकता है या फिर हार्ट बीट भी तेज हो सकती है.

(नोट: किसी भी उपाय को करने से पहले हमेशा किसी विशेषज्ञ या चिकित्सक से परामर्श करें. Zee News इस जानकारी के लिए जिम्मेदारी का दावा नहीं करता है.)

सेहत से जुड़े अन्य लेख पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें. 





Source link

MORE Articles

మంత్రివర్గ పునర్వ్యవస్థీకరణపై సీఎం జగన్ సిద్ధం.. ముహూర్తం?

ys jagan మంత్రివర్గ పునర్వ్యవస్థీకరణపై వైకాపా...

జానపద నృత్యానికి స్టెప్పులేసిన సిద్ధరామయ్య! (video)

siddaramaiah కర్ణాటక మాజీ ముఖ్యమంత్రి సిద్ధరామయ్య...

అరుణాచల్ ప్రదేశ్‌లో భూకంపం: రిక్టర్ స్కేల్‌పై 5.1గా నమోదు

earthquake అరుణాచల్ ప్రదేశ్‌లో శుక్రవారం భూకంపం...

కేంద్రం వైఖరిపై తెలంగాణ మంత్రుల మండిపాటు

తెలంగాణ ప్రజలకు కేంద్రం అధికారంలో...

Stay Connected

98,675FansLike
224,586FollowersFollow
56,656SubscribersSubscribe