Tuesday, April 13, 2021

Multiple Penis Triphallia: 3 प्राइवेट पार्ट्स के साथ पैदा हुए बच्चे का वैज्ञानिक कनेक्शन, जानें इसके पीछे का विज्ञान


नई दिल्ली: यह दुनिया विचित्रताओं से भरी हुई है. प्रकृति की एक से बढ़ कर एक ऐसी पहेलियां हैं जो विज्ञान के लिए चुनौती बनी हुई है. हाल में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसे सुन कर साधार इंसान नहीं बल्कि वैज्ञानिक भी दंग है. दरअसल इराक में एक बच्चा तीन प्राइवेट पार्ट्स (Multiple Penis) के साथ पैदा हुआ. 

वैज्ञानिक उलझन में

यह केस आम लोगों के लिए तो आश्चर्य वाला है ही मेडिकल साइंस के लिए भी यह बड़ी चुनौती है. इस तरह का केस दुनिया में पहली बार आया है. इससे पहले दो प्राइवेट पार्ट्स का मामला सामने आ चुका है. अब तीन प्राइवेट पार्ट्स की कंडीशन Triphallia ने वैज्ञानिकों को उलझा दिया है.

ये भी पढ़ें- दवा से लेकर दुआ का प्रतीक यमन के ‘ड्रैगन ब्लड ट्री’ का वजूद संकट में, एक्सपर्ट्स ने जताई चिंता

तीन पार्ट्स का मामला पहली बार

ये मामला इराक से सामने आया है. हालांकि इराक के इस बच्चे के दो प्राइवेट पार्ट्स को सर्जरी करके अलग कर दिया गया है. डेलीमेल की खबर के अनुसार, यहां हर 50-60 लड़कों में एक बच्चा एक से ज्यादा प्राइवेट पार्ट के साथ पैदा हुए हैं. आपको बता दें कि अब तक दुनियाभर में 100 Diphallia के मामले सामने आए हैं लेकिन इंटरनैशनल जर्नल ऑफ सर्जरी केस रिपोर्ट्स के अनुसार तीन पार्ट्स का मामला पहली बार आया है. 

सुपरन्यूमरेरी पेनिस 

इस विचित्र स्थिति को सुपरन्यूमरेरी पेनिस (Supernumerary Penises) कहते हैं. वैज्ञानिक इस अजीबोगरीब स्थिति को लेकर अब भी कंफ्यूजन में हैं.1600 के दशक में इसका पहला केस सामने आया था. इस केस में स्क्रोटम और एनस भी दो होने के चांस हो सकते हैं. मेडिकल साइंस के लिए ये उलझन इसलिए भी बन गई है क्योंकि अभी तक मिले सभी केस एक-दूसरे से अलग पाए गए हैं.  इसलिए इसे एक दुर्लभ कंडीशन बताया गया है.

ये भी पढ़ें- मंगल की सतह पर उतरा Ingenuity हेलिकॉप्टर, लाल ग्रह की सर्द रातें हैं चुनौती; भरेगा ऐतिहासिक उड़ान

जेनेटिक संरचना में बदलाव 

रिपोर्ट्स के अनुसार, यह कंडीशन गर्भ के 3-6 हफ्ते से लेकर 15वें हफ्ते में उतपन्न हो सकती है. इसके होने के कारण अभी तक साबित नहीं हुए हैं लेकिन एक संभावना नशीले पदार्थों का इस्तेमाल भी हो सकता है. रिपोर्ट में यह संभावना भी जताई गई है कि कई बार जेनेटिक संरचना में बदलाव के कारण ऐसा हो सकता है. 

बेहद विकट परिस्थिति

इस अजीबोगरीब स्थिति से मरीजों में कई तरह की परेशानियां पैदा हो सकती है जैसे- गैस्ट्रो-इंटेस्टिनल ट्रैक्ट, स्केलेटल या वेल्विक हड्डियों से लेकर कार्डिअक तक. ऐसी स्थिति में सभी अंग सामान्य काम करते हैं लेकिन इराक के इस बच्चे में ऐसा नहीं था, इसलिए इसे आसानी से अलग कर दिया गया। मेडीअक्ल साइंस में इस कंडीशन पर लगातार रिसर्च हो रहे हैं.

विज्ञान से जुड़ी अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

LIVE TV





Source link

MORE Articles

Nvidia expects crippling GPU shortages to continue throughout 2021

If you’re waiting for the crippling graphics card shortage to loosen up before buying new hardware, well, you might be waiting for a...

Microsoft’s Surface Laptop 4 packs much faster Intel processors

Microsoft has unveiled the Surface Laptop 4.You’ll get faster 11th-gen Intel Core chips, but a familiar design and older AMD options.It’s available April...

Anker is making a $130 webcam as part of its new expansion to home office gear

Anker has announced a new webcam as part of its new AnkerWork line of home office gear. The new webcam, called...

शादीशुदा पुरुषों के लिए बड़े काम की चीज है मुनक्का, जानें इस्तेमाल का तरीका

नई दिल्ली: मुनक्का को आयुर्वेद में औषधीय गुणों का भंडार कहा गया है. ऐसा माना जाता है कि मुनक्का किशमिश की तुलना में...

Discord blocks adult NSFW servers on its iOS app | Engadget

is blocking users of its iOS app from accessing servers that are tagged as not safe for work (NSFW). Communities that focus...

జేపీ నడ్డా వచ్చినా.. పవన్ కళ్యాణ్ ఎందుకు రాలేదు? చంద్రబాబుది పాత జిమ్మిక్కే: బొత్స, అంబటి

చంద్రబాబుది పబ్లిసిటీ డ్రామా మంగళవారం అంబటి రాంబాబు మీడియాతో మాట్లాడుతూ.. ఓటమి భయంతోనే చంద్రబాబు పబ్లిసిటీ డ్రామా ఆడుతున్నారని, వైసీపీని ఎదుర్కోలేకే దిగజారుడు రాజకీయాలు చేస్తున్నారంటూ...

Stay Connected

98,675FansLike
224,586FollowersFollow
56,656SubscribersSubscribe