Tuesday, September 21, 2021

New solar system: वैज्ञानिकों की जगी उम्मीद, Teenage Sun दे सकते हैं पृथ्वी और सौरमंडल के इतिहास की जानकारी


नई दिल्ली: धरती (Earth) को बने 4.5 अरब साल हो चुके हैं. लेकिन वैज्ञानिकों के सामने कई सवाल अब भी उलझे हैं जैसे यहां जीवन कैसे आया, हमारे ग्रह पर जीवन के अनुकूल परिस्थियां कैसे बनीं. हमारे ग्रह (Planet) और सौरमंडल (Solar System) के इतिहास (History) के बारे में पुरातत्व अवशेष जैसे स्रोत शायद ही कुछ हैं. ऐसे में सुदूर ब्रह्माण्ड (Universe) में नवोदित होते सौरमंडल से हमें काफी कुछ पता लग सकता है. नए सौरमंडल की खोज ने हमारे वैज्ञानिकों के लिए एक उम्मीद जगाई है.

क्या है नया सिस्टम TOI 451

अमेरिका के डार्टमाउथ (Dartmouth) के साथ हुए अध्ययन के शोधकर्ताओं ने कहा है कि यह नए ग्रहों का सिस्टम (Planet System) शोधकर्ताओं को नवजात ग्रहों (New Planets) के विकास में मददगार होगा. इस सिस्टम का नाम TOI 451 है. इसमें एक ही तारे (Star) का चक्कर लगाने वाले तीन ग्रह हैं. आपको बता दें कि इन ग्रहों का आकार पृथ्वी (Earth) और नेप्च्यून (Neptune) के बीच का है.

क्या कहते हैं वैज्ञानिक 

शोधकर्ताओं के अनुसार, नासा (NASA) के हबल टेलीस्कोप (Hubble Telescope) और उसके बाद आने वाला जेम्स वेब स्पेस टेलीस्कोप (JWST) का हर ग्रह (Planet) के वायुमंडल (Atmosphere) के अध्ययन में उपयोगी है. इससे ग्रहों के सिस्टम (System Of Planet) के विकास की जानकारी मिल सकती है. इतना ही नहीं इससे सौरमंडल (Solar System) के विकास की जानकारी भी मिल सकती है. डार्टमाउथ (Dartmouth) में भौतिकी और खगोलविज्ञान की एसिस्टेंट प्रोफेसर एलिजाबेथ न्यूटन (Assistant Professor Elizabeth Newton) ने कहा कि इस सिस्टम का सूर्य हमारे सूर्य के ही जैसा है, लेकिन ये युवा है. इसके अध्ययन से हम ग्रहों के निर्माण और विकास के बारे में जान सकते हैं.

ये भी पढ़ें- Deep Space Food Challenge: NASA का चैलेंज! अंतरिक्ष में भोजन उत्पादन के नए Unique idea दें और पाएं 5 लाख डॉलर

TESS के आंकड़ों से हुई ग्रहों की खोज

एस्ट्रोनॉमिकल जर्नल में प्रकाशित हुए इस अध्ययन के अनुसार, TOI 451 की खोज 2019 में हुई थी. वैज्ञानिकों ने नासा (NASA) के ट्रिंसिटिंग एक्सोप्लैनेट सर्वे सैटेलाइट (TESS) के आंकड़ों की समीक्षा की. सभी तीन ग्रह TESS के आंकड़ों के जरिए ही खोजे गए. इन खोजों के बाद फॉलोअप कार्य नासा के स्पिट्जर स्पेस टेलीस्कोप (Spitzer space Telescope), पृथ्वी (Earth) पर स्थिति साउथ अफ्रीकन लार्ज टेलीस्कोप और अन्य स्रोतों के जरिए किया गया जिसमें 50 से अधिक शोधकर्ताओं ने भाग लिया.

वैज्ञानिक खुद को मान रहे भाग्यशाली 

इस शोध में शामिल वैज्ञानिक एंड्रयू मान (Andrew Mann) ने बताया कि इस तरह के युवा ग्रहों (Young Planets) की खोज के लिए TESS के आंकड़े लाजवाब हैं. उन्होंने बताया कि वे सभी वैज्ञानिक भाग्यशाली हैं कि वे ऐसे समय में काम कर रहे हैं जहां ऐसे सफल बाह्यग्रह अभियान (Exoplanet Mission) के आंकड़ों तक पहुंच मिल पा रही है. ये ग्रह अपने तारे का चक्कर दो से 16 दिन में लगा लेते हैं.

ये भी पढ़ें- Farfarout Planetoid: खगोलविदों ने खोजा सौरमंडल में सबसे दूर का पिंड ‘Farfarout’, जानिए क्या है इसकी खासियत

युवा है ये सूरज 

इस सिस्टम के तारे (Star) का भार हमारे सौरमंडल (Solar system) के सूर्य (Sun) की तरह है लेकिन यह जवान है क्योंकि इसकी उम्र 12 करोड़ साल ही है. न्यूटन ने कहा कि यह तारा हमारे सूर्य की तुलना में टीन एजर ही है. यानी ये ग्रह अब भी बदल रहे हैं और विकसित हो रहे हैं. यह सिस्टम पाइसेस एरिडानस तारा प्रवाह (Stellar Stream) का हिस्सा है. यह युवा तारों की संघ है जो दक्षिणी गैलेक्टिक गोलार्द्ध में फैला है. यह तारा संघ और उसकी उम्र का TESS और ईएसए के गीगा यान के आंकड़ों के जरिए अलग अलग टीम ने पता लगाया था.

तारों के अवशेषों की धूल भरी डिस्क के प्रमाण

नासा (NASA) के अनुसार, सौरमंडल (Solar System) के बाहर चार हजार से ज्यादा ग्रह (Exoplanets) हैं. इनमें से ज्यादातर ग्रह पुराने हैं और इस सिस्टम के मुकाबले पृथ्वी (Earth) से बहुत दूर हैं. अभी तक इस तरह के केवल सात युवा बहु ग्रहीय सिस्टम (Multi planet system) पता किए गए हैं. एक ही सिस्टम में एक से ज्यादा ग्रह वैज्ञानिकों को ज्यादा जानकारी दे सकता है. इन ग्रहों के अलावा तारों के अवशेषों की धूल भरी डिस्क (Disk) के प्रमाण भी पाए हैं.

विज्ञान से जुड़े अन्य लेख पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

LIVE TV





Source link

MORE Articles

Alzheimer’s Disease: इस लाइलाज बीमारी की शुरुआत में मिलने लगते हैं ये संकेत, तुरंत उठाएं ये कदम

Alzheimer's Day: 21 सितंबर को पूरे विश्व में वर्ल्ड अल्जाइमर डे (World Alzheimer's Day 2021) के रूप में मनाया जाता है. यह एक...

పొలిటికల్ గేమ్ చేంజ్: డ్రగ్స్ కేసు హైలెట్ చేస్తున్న కాంగ్రెస్.. డిఫెన్స్ లో కేటీఆర్; రేవంత్ వార్ వ్యూహాత్మకం

టీఆర్ఎస్ మంత్రులపై రేవంత్ రెడ్డి సంచలన ఆరోపణలు .. డిఫెండ్ చేస్తున్న మంత్రులు తెలంగాణ పిసిసి చీఫ్ బాధ్యతలు చేపట్టిన నాటి నుండి రేవంత్ రెడ్డి తెలంగాణ...

Salesforce invests in Indian fintech unicorn Razorpay

The funding may have pushed Razorpay's valuation to over US$3 billion, Livemint reported. Source link

కేంద్రం కోర్టులోకి జోగి రమేష్ ఘటన-హోంశాఖకు టీడీపీ ఫిర్యాదు-చంద్రబాబుకు మరింత భద్రత !

వైసీపీ వర్సెస్ టీడీపీ పోరు ఏపీలో వైసీపీ, టీడీపీ మధ్య పోరాటం పదేళ్లుగా సాగుతూనే ఉంది. అయితే 2019 ఎన్నికల్లో వైసీపీ గెలిచిన తర్వాత అప్పటికే ఘోర...

Beauty Tips: मक्खन-सी त्वचा चाहिए, तो फेस पर ऐसे लगाना शुरू करें ताजा मक्खन, चेहरा चमक जाएगा

सितंबर का महीना चालू है और इस समय मौसम में बदलाव होता है. बरसात का मौसम जा रहा होता है और सर्दियां आने...

Illegal affair: ప్రియుడు, అక్కతో కలిసి భర్తను ముక్కలుగా నరికేసింది, ఫ్లాట్ లో కెమికల్స్ వేసి !

లిక్కర్ వ్యాపారి బీహార్ లోని ముజఫర్ పూర్ లోని సికందర్ పూర్ నగర్ లో రాకేష్ (30), రాధా దంపతులు నివాసం ఉంటున్నారు. రాకేష్ అంతకు ముందు లిక్కర్...

భారత విమాన ప్రయాణికులకు గుడ్ న్యూస్: 5 నెలల తరువాత నిషేధం ఎత్తేసిన ఆ దేశం

టోరంటో: ప్రాణాంతక కరోనా వైరస్ సెకెండ్ వేవ్, ప్రమాదకరమైన డెల్టా ప్లస్ వేరియంట్ వ్యాప్తి చెందుతోన్న పరిస్థితులను దృష్టిలో ఉంచుకుని భారత్‌తో అనేక దేశాలు విమాన సంబంధాలను తెంచుకున్నాయి. కరోనా వల్ల సంభవించిన...

Mahant Narendra Giri death case: యోగి సర్కార్‌పై అనూహ్య ఒత్తిడి: ఏకమౌతోన్న అఖాడా పరిషత్

కీలకంగా మారిన లేఖ అఖాడా పరిషత్ ప్రధాన కేంద్రంలో మహంత్ నరేంద్ర గిరి ఆత్మహత్య చేసుకున్న విషయం తెలిసిందే. సంఘటనా స్థలం నుంచి పోలీసులు ఎనిమిది పేజీల...

Stay Connected

98,675FansLike
224,586FollowersFollow
56,656SubscribersSubscribe