Monday, October 18, 2021

PSLV-C51/Amazonia-1: ISRO ने रचा इतिहास! 19 satellite के साथ SLV-C51 की सफल उड़ान, स्पेस में गूंजेगा गीता का संदेश


नई दिल्ली: इसरो ने अंतरिक्ष में इतिहास रच दिया है. साल 2021 के पहले अंतरिक्ष मिशन को आज सफलतापूर्वक लांच किया गया. इसरो ने श्रीहरिकोटा स्पेसपोर्ट से सतीश धवन (Satish Dhawan Space Centre) ने अंतरिक्ष केंद्र से अमोनिया -1 (v) सहित 18 अन्य उपग्रहों को अंतरिक्ष ले जाने वाले PSLV-C51 को सफलतापूर्वक लांच किया.

 2021 में इसरो का यह पहला लांच

आपको बता दें कि 2021 में भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन का यह पहला लांच है.ये मिशन अब तक के सबसे लंबे स्पेस आ़परेशन में शामिल है. इस मिशन का लांच सुबह 10.24 बजे हुआ. इस मिशन के सफलतापूर्वक लांच होने के बाद इसरो के प्रमुख के सिवन (ISRO Chief K Sivan) ने बताया कि इस मिशन से भारत और ISRO, ब्राजील द्वारा एकीकृत पहले उपग्रह को लांच करने पर बेहद गर्व महसूस कर रहे हैं. साथ ही उन्होंने बताया कि सभी सैटेलाइट्स बहुत ही सुरक्षित हालत में हैं. उन्होंने ब्राजील की टीम को बधाई भी दी.

ये भी पढ़ें- Mars Perseverance Rover: मंगल ग्रह पर कहां गिरे Mars Rover के हिस्से? NASA ने जारी की 360 डिग्री पैनोरमा तस्वीर

गूंजेगा गीता का संदेश

इसरो के इस लांच की खास बात यह है कि इसके साथ भगवद्गीता (Bhagwat Geeta In Space) भी अंतरिक्ष में भेजी गई है. इसका मतलब अब विश्व गुरु भारत में ही नहीं बल्कि अंतरिक्ष में भी गीता का संदेश गुजेगा. प्रत्येक भारतीयों के लिए ये पल गौरवपूर्ण है.

अंतरिक्ष में PM मोदी की तस्वीर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर भी इस मिशन के साथ आसमान की ऊंचाइयों में पृथ्वी का चक्कर काटेगी. आपको बता दें कि स्पेस किड्ज इंडिया ने अपने सतीश धवन सैटेलाइट के शीर्ष पैनल पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की तस्वीर बनाई है. स्पेस किड्ज इंडिय की वेबसाइट के अनुसार, ऐसा इसलिए किया गया है क्योंकि पीएम की आत्मनिर्भर पहल और निजी कंपनियों के लिए अंतरिक्ष की राह खोलने वाले निर्णय से एकजुटता दिखाई जा सके.

ये भी पढ़ें- Parker Solar Probe: NASA का कमाल! ढके-छिपे शुक्र ग्रह की ली तस्वीर, दुनिया भर के वैज्ञानिक हुए हैरान

19 सैटेलाइट को अंतरिक्ष में भेजा गया

ब्राजील के एमाजोनिया-1 प्राइमरी सेटेलाइट के साथ ही पीएसएलवी–सी51 से 18 और सेटेलाइट लांच किए गए. यह पीएसएलवी का 53वां मिशन है. पीएसएलवी–सी51/ एमाजोनिया–1 अंतरिक्ष विभाग के तहत सरकारी कंपनी न्यूस्पेस इंडिया लिमिटेड (NSIL) का पहला समर्पित वाणिज्यिक मिशन है. एनएसआइएल इस मिशन को अमेरिका की स्पेसफ्लाइट इंक के साथ वाणिज्यिक अनुबंध के तहत पूरा की  है. एमाजोनिया-1 के साथ जिन अन्य 18 सेटेलाइट को लांच किया गया है उनमें चार इसरो के इंडियन नेशनल स्पेस प्रमोशन एंड अथाराइजेशन सेंटर और 14 एनएसआइएल शामिल हैं.

अंतरिक्ष में रेडिएशन पर रिसर्च

गौरतलब है कि पीएसएलवी (पोलर सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल) सी51/अमेजोनिया-1 इसरो की वाणिज्य इकाई न्यूस्पेस इंडिया लिमिटेड (एनएसआईएल) का पहला समर्पित वाणिज्यिक मिशन है. अमेजोनिया-1 के बारे में बताया गया है कि यह उपग्रह अमेज़न क्षेत्र में वनों की कटाई की निगरानी और ब्राजील के क्षेत्र में विविध कृषि के विश्लेषण के लिए उपयोगकर्ताओं को दूरस्थ संवेदी आंकड़े मुहैया कराएगा. इस सैटेलाइट के जरिए स्पेस किड्ज इंडिया अंतरिक्ष में रेडिएशन पर रिसर्च करेगा.

विज्ञान से जुड़ी आने खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

LIVE TV





Source link

MORE Articles

How the tech used to make giant, ultrahigh-precision mirrors and lenses for the James Webb Space Telescope was repurposed to develop displays for mobile...

Christopher Mims / Wall Street Journal: How the tech used to make giant, ultrahigh-precision mirrors and lenses for the James Webb Space Telescope...

OzTech: CBA gets machine learning to tackle abusive messaging; Smart city tally ranks 5 Australian cities; Australia and Finland to exchange supercomputer information

Commonwealth Bank gets machine learning to solve abusive messaging issuesEighteen months after finding a large number of abusive messages attached to customers’ transactions...

Amazon India’s brand team steals designs and artificially boosts its visibility in search results

A hot potato: Companies worldwide spend uncountable hours and dollars to...

Tinder Is Going to Help People Find Wedding Dates

Tinder isn't typically associated with marriage, but the company is looking to change that with a new feature called...

Stay Connected

98,675FansLike
224,586FollowersFollow
56,656SubscribersSubscribe