Tuesday, August 3, 2021

VL- SRSAM Missile: इस स्वदेशी मिसाइल से बढ़ेगी भारतीय सेना की ताकत, DRDO ने किया ‘Surface To Air Missile’ का सफल परीक्षण


नई दिल्ली: रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) ने सफलता पूर्वक स्वदेश मिसाइल का परिक्षण किया है. सोमवार को ओडिशा के चांदीपुर स्थित इंटीग्रेटेड टेस्ट रेंज में शॉर्ट रेंज की जमीन से हवा में मार करने वाली मिसाइल का सफल परीक्षण किया गया. इस मिसाइल को वर्टिकल लॉन्च शॉर्ट रेंज सरफेस-टू-एयर मिसाइल (VL-SRSAM) कहते हैं. आपको बता दें कि मिसाइल ने अपने निशाने को तय समय में नेस्तानाबूत कर दिया.

आसमानी हमलों का मुंह तोड़ जबाब 

गौरतलब है कि शॉर्ट रेंज सरफेस-टू-एयर मिसाइल (VL-SRSAM) पूरी तरह से स्वदेशी मिसाइल है. इसे भारतीय नौसेना के लिए बनाया गया है ताकि भारतीय नौसेना आसमानी हमलों का मुंहतोड़ जवाब दे सके. इस मिसाइल का परीक्षण कम से कम और अधिकतम रेंज के लिए किया गया था.

ये भी पढ़ें- NASA Perseverance Rover Landing Video: मंगल से NASA के रोवर ने भेजा पहला वीडियो, देखें लाल ग्रह का अद्भुत नजारा

2022 में भारतीय नौसेना में होगा शामिल

शॉर्ट रेंज सरफेस-टू-एयर मिसाइल (VL-SRSAM) को 2022 में भारतीय नौसेना में शामिल किया जाएगा. इसके ऑपरेशनल रेंज 40 से 50 किलोमीटर है. इसे अस्त्र मिसाइल के प्लेटफॉर्म पर बनाया गया है. यह मिसाइल 4.5 मैक यानी 5556.6 किलोमीटर प्रतिघंटा की गति से दुश्मन पर हमला करेगी. इस मिसाइल में वेपन कंट्रोल सिस्टम (WCS) भी लगा है जो इसके सह- हथियार को नियंत्रित करता है. ये एक साथ कई निशाने पर वार कर सकता है.

ये भी पढ़ें- NASA ने जारी की मंगल पर उतरते रोवर की अद्भुत तस्वीर, ये PHOTOS देख वैज्ञानिक भी हुए हैरान

रक्षामंत्री ने दी बधाई 

परीक्षण के समय चांदीपुर के प्रशासन ने लॉन्चपैड के आसपास मौजूद पांच बस्तियों के 6322 लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचा दिया गया था. ताकि किसी तरह का हादसा हो तो ये स्थानीय लोग सुरक्षित रहें. रक्षामंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने डीआरडीओ को इस बड़ी सफलता के लिए बधाई दी है.

360 डिग्री पर दुश्मन का करेगा खात्मा 

भारतीय नौसैनिक युद्धपोतों में लगाई जाने वाले इस स्वदेसी मिसाइल वर्टिकल लॉन्च सिस्टम में एकसाथ 8 मिसाइलें तैनात की जा सकेंगी. इसका वेपन कंट्रोल सिस्टम (WCS) 360 डिग्री पर दुश्मन के हमलों को इंटरसेप्ट कर सकता है. साथ ही उन्हें नष्ट कर सकता है. यानी ये मिसाइल जहां तैनात होगी उस पर हमला करना असंभव हो जाएगा. 

विज्ञान से जुड़ी अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

LIVE TV





Source link

MORE Articles

Remove the blackness of underarms: किचन में रखी इन चीजों से चुटकियों में हटेगा अंडरआर्म्स का कालापन, जानिए आसान तरीका

how to remove dark underarms: ज्यादातर महिलाएं अंडरआर्म्स का कालापन (blackness of underarms) छिपाने के लिए बिना आस्तीन के कपड़े पहनने से बचती...

Singapore accelerator Iterative selects 10 startups for its Summer 2021 cohort

The startups in the batch will receive US$150,000 in funding in exchange of a 10% stake. Source link

భారత హాకీ జట్టుకు పూర్వ వైభవం: ఒడిషా సీఎం నవీన్ పట్నాయక్ వల్లే ఇది సాధ్యమైంది

భారత హాకీకి మంచి రోజులు భారత హాకీకి మళ్లీ తిరిగి మంచి రోజులు వచ్చాయి. ఇందుకు కారణం ప్రస్తుతం జరుగుతున్న టోక్యో ఒలింపిక్స్‌లో 41 సంవత్సరాల తర్వాత...

మోడీకి అండగా కేసీఆర్, నోరెత్తని టీఆర్ఎస్: అందుకే తెలంగాణకు అన్యాయమంటూ రేవంత్ ఫైర్

న్యూఢిల్లీ/హైదరాబాద్: కేంద్ర, రాష్ట్ర ప్రభుత్వాలపై తెలంగాణ కాంగ్రెస్ అధ్యక్షుడు రేవంత్ రెడ్డి తీవ్రస్థాయిలో విరుచుకుపడ్డారు. ప్రధాని నరేంద్ర మోడీ, తెలంగాణ సీఎం కేసీఆర్ వేర్వేరు కాదని, అవసరం అయినప్పుడల్లా బీజేపీకి టీఆర్ఎస్ అండగా...

Benefit of banana health: रोज 1 केला सेहत के लिए कर सकता है कमाल, बस जान लीजिए सेवन का सही टाइम

benefit of banana health: आज हम आपके लिए केला के फायदे लेकर आए हैं. केला सबसे ज्यादा एनर्जी देने वाला फल है. खास...

Wife: అదే విషయంలో గొడవలు, ఏంచేస్తావు అని ఎదురు తిరిగిన భార్య, స్పాట్ లో చంపేసిన భర్త !

బెంగళూరులో కాపురం ఐటీ హబ్ బెంగళూరు నగరంలోని చంద్రాలేఔట్ లో సయ్యద్ అనే వ్యక్తి నివాసం ఉంటున్నాడు. కొన్ని సంవత్సరాల క్రితం సయ్యద్, బేబి అయోషా అే...

Stay Connected

98,675FansLike
224,586FollowersFollow
56,656SubscribersSubscribe